बिहार का लोक उत्सव सामा-चकेवा Nov18

बिहार का लोक उत्सव सामा-चकेवा...

     बिहार में कुछ त्योहार कुछ लोक उत्सव ऐसे हैं जो प्रकृति के प्रति प्रेम और सम्मान के प्रतीक के रूप में मनाये जाते हैं । मकर संक्रान्ति, छठ ऐसे ही कुछ त्योहार हैं । इसी तरह का एक लोक उत्सव है सामा-चकेवा । यह मुख्य रूप से बिहार के मिथिला क्षेत्र में कार्तिक पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है । महिलाएँ पारम्परिक रूप से सज-धज कर कार्तिक पूर्णिमा के शाम को मैथिली लोकगीत गाती हुई बाँस की टोकड़ी में मिट्टी के बने सामा-चकेवा, श्री सामा, चुगला, वृंदावन, बाटो बहिना, सतभैयाँ, पक्षी, पेड़, जानवर आदि के मिट्टी की बनी मूर्तियाँ लेकर खेतों में जाती हैं और इन मूर्तियों के साथ सामा-चकेवा का उत्सव हर्षोल्लास के संग मनाती हैं । इस उत्सव को ही...

Home Page