इश्क में नौटंकी‬ Jun13

Tags

Related Posts

Share This

इश्क में नौटंकी‬

“तेरी धमनियों में मेरे ही नाम का द्रव बह रहा है अंजलि, यकीन ना हो तो अपने लहू का लिटमस टेस्ट करवा के देख”
“अब इसका क्या मतलब?? ये फिर से कौन सी कह्मुकरी है कृष्णा?“
“तुझे तो हमेशा ही मेरा प्यार झूठा लगता है….खैर रहने दे…तू नहीं समझेगी कंभी….जब मैं नही रहूंगा तो याद आएगा”
“ओहो….आई लव यू ना क…क…क…क…कृष्णा….”
“हुँह…फर्जी…………..”
“मेरा छोना बाबू रूठ गया….आजा एक सेल्फी लेते हैं…चोंच निकाल…”
“♥ ♥”