​ग्लोबल गप्प डायरेक्ट गाम से


​ग्लोबल गप्प डायरेक्ट गाम से
मिथिला में बंजर जमीनों, रेलवे लाइन के किनारे, नदी के मुहाने एक प्रकार का घास बहुतायत मिलता है जिसे सिक्की घास कहते हैं।सिक्की घास से मिथिला में नाना प्रकार के घरेलू सामान और सजावट के सामान बनाये जाते थे । हालांकि व्यावसायिक पहचान के अभाव में अब यह कला दम तोड़ रही है । ना कलाकारों को पहचान मिलती है ना ही कला का सही मूल्य मिलता है । ऐसे में आज चौठ-चंद्र के अवसर पर इस सिक्की कला के एक बेहतरीन नमूने ‘डलिया’ में चंद्रमा की पूजा का प्रसाद मिला तो काफी प्रसन्नता हुई । बातचीत के क्रम में बहुत सारे कलाकारों के बारे में पता चला । मैं इनकी कलाओं को जालवृत पर बाज़ार देना चाहता हूँ । ईच्छुक उद्यमी संपर्क कर सकते हैं ।